Challenge A Action Packed Story Oriented Movie : Pawan Singh

Challenge A Action Packed Story Oriented Movie : Pawan Singh...

कंम्प्लीट एक्शन पैक्ड और स्टोरी ओरियंटेड फिल्‍म है ‘चैलेंज’ – पवन सिंह भोजपुरी सुपरस्टार पवन सिंह, समीर आफताब, मधु शर्मा एवं शिविका दिवान की फिल्म ‘चैलेंज’ जल्द ही सिनेमाघरों में प्रदर्शित होने जा रही है। यशी फिल्म्स के अभय सिन्हा प्रस्तुत इस भोजपुरी फिल्म को लेकर जितने उत्‍साहित निर्देशक सतीश जैन हैं, उतने ही पवन सिंह। पवन, पहली बार सतीश जैन के निर्देशन काम कर रहे हैं। वे इस फिल्‍म को अपनी पिछली कामयाब फिल्मों की तुलना में अलग मानते हैं। आखिर फिल्म ‘चैलेंज’ में क्‍या कुछ नया है, इसके बारे पवन से बात की पीआरओ रंजन सिन्‍हा ने… कैसी फिल्‍म है ‘चैलेंज’ और इसमें क्‍या नया होगा ? यह फिल्‍म मेरे लिए चाइलेंजिंग है। इस फिल्‍म को मैं एक कंम्प्लीट एक्शन पैक्ड स्टोरी ओरियंटेड फिल्म मानता हूं, जिसमें उम्‍दा पटकथा के साथ एक्‍शन का भरपूर डोज मिलेगा। क्‍योंकि किसी भी फिल्म के लिए सबसे जरूरी होती है फोकस्‍ड स्‍टोरी। इसके अनुसार ही एक्शन सिक्‍वेंस लोगों को पसंद भी आते हैं। यह मेरी पिछली फिल्‍मों से बिलकुल अलग फिल्‍म है। पिछली कई फिल्‍मों में आप लगातार एक्शन करते नजर आए, तो फिर ‘चैलेंज’ अलग कैसे हुयी? चैलेंज अलग इस मामले में है कि पहली बार इस फिल्म के निर्देशक सतीश जैन ने कोई एक्शन फिल्म को निर्देशित किया है। मूलत: उनकी फिल्मों की पहचान कहानी होती है । निरहुआ हिन्दुस्तानी और निरहुआ रिक्शावाला 2 को आप एक बेहतर स्क्रीप्ट वाली फिल्म कह सकते हैं। एक्शन पैक्ड फिल्म नहीं कह सकते, लेकिन  ‘चैलेंज’ में आप को एक बेहतर स्क्रीप्ट के साथ जबरदस्त एक्शन छौंका देखने को मिलेगा। फिल्म में अपने अपने किरदार के बारे में बताएं ? इस फिल्म में मैं एक ऐसे बिहारी नायक की भूमिका में हूं, जिसके सामने एक चैलेंज होता है। चैलेंज ऐसा की कोई कल्पना भी नहीं कर...
Jang E Ishq  Films Priemer Held In Patna

Jang E Ishq  Films Priemer Held In Patna...

पटना में ‘जंग ए इश्क’ का प्रीमियर संपन्‍न पटना। आनंद गुप्ता निर्मित और कुमार सरोज निर्देशित भोजपुरी फिल्‍म ‘जंग ए इश्क’का भव्‍य प्रीमियर आज राजधानी पटना स्थित गेट टूगेदर हॉल में संपन्‍न हो गया। इस दौरान फिल्‍म के निर्माता – निर्देशक समेत पूरी स्‍टार कास्‍ट मौजूद रहे। फिल्‍म14 जुलाई को सिनेमाघरों में प्रदर्शित होगी। ए.डी. फिल्म प्रोडक्शन हाउस और अमन वर्मा क्रिएशन के संयुक्त तत्वावधान में बनी इस फिल्‍म के प्रीमियर के दौरान आज निर्देशक कुमार सरोज ने बताया कि यह एक प्रेम कहानी है, जिसे देख दर्शक अपने आप से जुड़ाव महसूस करेंगे। फिल्म पूरी तरह से सामाजिक एवम पारिवारिक दायरे के अंदर है। अश्लीलता और फूहड़पन से फ़िल्म को काफी दूर रखा गया है। यह फ़िल्म सिनेमा हॉल में भोजपुरी माटी कि खुशबू बिखेरेगी। सामजिक सन्देश के साथ यह फिल्म दर्शकों का खूब मनोरंजन करेगी। वहीं, निर्माता आनंद गुप्‍ता ने कहा कि फिलम में आनंद गुप्ता, देवेंद्र कुमार सिंह, ज़ारा प्रवीन, सनम खान, प्रदीप कुमार, सुनील रंगकर्मी, अशोक वर्मा, कन्हैया पासवान, बबलू पासवान, रूपाली, श्रवण सिंह, भोला गुप्ता, मोनू मयंक इत्यादि कलाकारों ने काफी मेहनत की है। फिल्म की शूटिंग अरवल, गया, पटना और कोलकाता के मनमोहक लोकेशनों पर की गई है। ये फ़िल्म बहुत ही ख़ूबसूरत है। फिल्म के कैमरामैन अजय एवं अमिताभ चन्द्रा हैं। फिल्म के गीतकार पुजारा पंकज हैं और संगीतकार हैं शंकर सिंह। इस फ़िल्म के गीतों को ज़ाहिद,खुशबू उत्तम,पापिया गांगुली,अमृता दीक्षित,रंजीत सिंह,बबुआ विकाश ने गाया है। फिल्म के एडिटर राजीव रंजन हैं और नृत्य निर्देशक हैं पप्पू...
भोजपुरिया क्‍वीन रानी चटर्जी को इन से है खतरा  

भोजपुरिया क्‍वीन रानी चटर्जी को इन से है खतरा  ...

भोजपुरिया क्‍वीन रानी चटर्जी को इंडस्‍ट्री में आये करीब 13 साल हो गए।  इंडस्‍ट्री में आते ही भोजपुरिया दर्शकों के दिलो दिमाग में छा गयी थी रानी। आज भी यह जलवा कायम है। ऐसा नहीं की रानी को चुनौतियां नहीं मिली, मगर रानी अपने दम पर बिना किसी स्पोर्ट के आगे बढ़ती गयीं। आज वे अपने दम पर भी फिल्‍में हिट कराने की क्षमता रखती हैं। यह क्षमता भोजपुरी के किसी दूसरी अभिनेत्री में नहीं है। फिल्‍म ‘ससुरा बड़ा पैसावाला’ से अपने करियर का आगाज करने वाली रानी चटर्जी ने सौ से भी ज्‍यादा फिल्‍में कर चुकी हैं। फिल्‍म ‘ससुरा बड़ा पैसावाला’ वही फ़िल्म थी, जिससे  भोजपुरी फ़िल्म उद्योग पुनःजीवित हुआ। तब रानी मात्र 16 साल की थी। तब से लेकर आज तक हर साल रानी को हर एक नई अभिनेत्री से चुनौती मिली, जिसमें कुछ हिंदी फिल्मों की चर्चित अभिनेत्रियां भी शामिल हैं। मगर कोई भी रानी की दर्शकों के बीच लोकप्रियता के सामने टिक न सकीं।                   वर्ष 2005 के बाद से ही रानी को चुनौती मिलनी शुरू हुई। पहले रिंकु घोष और दिव्या देसाई आई, मगर रानी तो रानी ही थी। इसलिए रिंकु और दिव्‍या उनका सिक्‍का हिला नहीं पाईं। बाद कि दिनों में रिंकु शादी कर विदेश में बस गयी तो दिव्या, रश्मि देसाई के नाम हिंदी धारावाहिकों में फेमस हो गयी। एक समय ऐसा आया, जब हिंदी फिल्मों की चर्चित अभिनेत्री नगमा, रंभा और भूमिका चावला को रानी के विकल्‍प के तौर पर देखा गया। मगर ये अभिनेत्रियां जिस रफ्तार से आईं, उसी रफ्तार गायब भी हो गई। नगमा इन दिनों सक्रिय राजनीति में है तो रंभा और भूमिका चावला शादी कर अपना जीवन जी रही है। इसके बाद पाखी हेगड़े और मोनालिसा का इंडस्‍ट्री में आगमन हुआ। पाखी को भोजपुरी के सुपर स्टार दिनेशलाल...
अन्तर्राष्ट्रीय संग्रहालय दिवस – बिहार के स्‍वर्णिम इति‍हास का आम जनमानस के बीच ले जाने की जरूरत : शिवचंद्र राम

अन्तर्राष्ट्रीय संग्रहालय दिवस – बिहार के स्‍वर्णिम इति‍हास का आम जनमानस के बीच ले जाने की जरूरत : शिवचंद्र राम...

पटना। अन्तर्राष्ट्रीय संग्रहालय दिवस के अवसर पर आज पटना म्‍यूजियम में फोटो प्रदर्शनी सह सेमिनार का विधिवत उद्धाटन करते हुए कला, संस्‍कृति एवं युवा विभाग के मंत्री श्री शिवचंद्र राम ने कहा कि बिहार का इतिहास काफी समृद्ध और स्‍वर्णिम है। इसे किताबों से निकाल कर आम जनमानस के बीच ले जाने की जरूरत है, ताकि हमारी आने वाली पीढ़ी तकनीक के साथ – साथ अपने कल को जान सकें। उन्‍होंने विभाग के प्रधान सचिव श्री चैतन्‍य प्रसाद और अपर सचिव आनंद कुमार की सराहना करते हुए कहा कि कला, संस्‍कृति एवं युवा विभाग द्वारा ऐसे कार्यक्रमों के लिए इनके जैसे अधिकारी व विभाग के लोगों की मेहनत है। श्री राम ने कहा कि पटना म्‍यूजियम का इतिहास भी काफी पुराना है, जहां 75,000 से भी अधिक कलाकृतियां, पुरातात्विक अवशेष आदि हैं। यह बिहार के स्‍वर्णिम इतिहास को दिखाता है। यहां यक्षिणी की मूर्ति है, जो अपने आप में अद्भूत है। यह हमारे कला की संपन्‍नता को दर्शाता है। उन्‍होंने कहा कि कला, संस्‍कृति एवं युवा विभाग इतिहास की इन बहुमूल्‍य धरोहर को लोगों से परिचित कराने के लिए फोटो प्रदर्शनी और सेमिनार का आयोजन किया है, जो एक जरूरी और सराहनीय कार्य है। उन्‍होंने कहा कि ऐसे आयोजन की जरूर राज्‍यभर में है, ताकि युवा पीढ़ी अपने पुरखों को जान सकें। इसलिए बिहार के गौरवशाली इतिहास को किताब के पन्‍नों से निकाल कर आम जनमानस तक ले जाने की जरूरत है। उन्‍होंने बिहार के मुख्‍यमंत्री श्री नीतीश कुमार और उप मुख्‍यमंत्री श्री तेजस्‍वी यादव जी का आभार जताते हुए कहा कि आज बिहार सरकार की ओर से परिभ्रमण योजना चलाई जा रही है, जो स्‍कूल के बच्‍चों को बौधिक व मानसिक विकास के साथ अपने राज्‍य की विविधताओं से भी परिचय करवाता है। बच्‍चे इस म्‍यूजियम में भी आते हैं और इतिहास को जानते हैं। उन्‍होंने कहा कि विभाग ने...
एक्शन के रियल टाईगर विशाल सिंह की गदर टू 

एक्शन के रियल टाईगर विशाल सिंह की गदर टू ...

भोेजपुरी की कामयाब फिल्म ‘ले आईब दुलहनिया पाकिस्तान से’ के नायक विशाल सिंह को अब आप जल्द ही गदर टू में देखेंगे। गदर में जहां भोजपुरी सुपरस्टार पवन सिंह मुख्य भूमिका में थे वहीं भोजपुरी फिल्म  गदर टू में एक्शन फिल्मों के टाईगर माने जाने वाले विशाल सिंह दर्शको का दिल जीतते दिखाई देंगे। इस फिल्म का निर्माण गदर की टीम के ही निर्माता संजय सिंह राजपूत और निर्देशन रमाकांत प्रसाद कर रहे हैं। रमाकांत प्रसाद ने ही विशाल सिंह को लेकर लेआईब दुलहनिया पाकिस्तान से बनायी थी और यह फिल्म कामयाबी के नये स्तर तक पहुंची थी और विशाल सिंह रातोरात ना सिर्फ सुर्खियोंमें आगये बल्की रियल एक्शन टाईगर भी बन गये।  इस फिल्म में विशाल सिंह , माहीखान , सनी सिंह और श्रेया की मुख्य भूमिका है । फिल्म गदर टू के बारे में निर्देशक रमाकांत प्रसाद की माने तो उन्होंने ही विशाल सिंह की फिल्म लेआईब दुलहनिया पाकिस्तान से गदर भी निर्देशित की थी । गदर से भी ज्यादा एक्शन पैक्ड फिल्म गदर टू बनानी थी और इस दौरान सच कह रहा हूं इस दौरान विशाल सिंह का नाम सामने आया। विशाल सिंह भोजपुरिया बॉक्स ऑफिस के रियल एक्शन टाईगर हैं और उनका आज एक्शन में कोई जवाब नहीं है। इस फिल्म के निर्माता संजय सिंह राजपूत कहते हैं मेरे लिये सशक्त अभिनय मायने रखता । मेरी फिल्म गदर पवन सिंह के साथ थी जो उस फिल्म के लिये पवन सिंह डिमांड थे और अब गदर टू के लिये विशाल सिंह की जरुरत थी इसलिये हमने उन्हे इस फिल्म के लिये विशाल सिंह को साईन किया। गदर टू को लेकर विशाल सिंह कहते हैं निर्माता संजय सिंह और निर्देशक रमाकांत प्रसाद का मैं आभारी हूं कि उन्होने मुझ पर विश्वास किया। विशाल इन दिनों फिल्म गदर...
“मेहंदी तोहरे नाम के” की शूटिंग शुरू नारिप्रधान फ़िल्म होगी

“मेहंदी तोहरे नाम के” की शूटिंग शुरू नारिप्रधान फ़िल्म होगी...

एडीआरएस एंटरटेनमेंट और श्री शांति एंटरटेनमेंट के संयुक्त तत्वावधान में बन रही पारिवारिक भोजपुरी फिल्म “मेहँदी तोहरा नाम के” की शूटिंग देवरिया,गोपालगंज और इसके आस पास के लोकेशनों पर शुरू हो चुकी है। कुछ ही दिन पहले इस फ़िल्म का मुहूर्त पटना में भव्य तरीके से की गयी थी । फ़िल्म के निर्माता प्रवीन कुमार और पूनम सिंह हैं। फ़िल्म के विषय में इनका कहना है की ये फिल्म नारीप्रधान है। यह फ़िल्म एक मिशाल साबित होगी,उच्च वर्गीय दर्शक वर्ग के साथ भोजपुरी सिने जगत को एक अलग नराजिया मिलेगा। फ़िल्म के लेखक–निर्देशक  रंजन शर्मा काफी युवा है जिससे फ़िल्म उद्योग को इनसे काफी उम्मीदें भी हैं। फिल्म के निर्देशक रंजन शर्मा का कहना है की इस फ़िल्म का फिल्मांकन काफी प्यार से किया जा रहा है,हमारी टीम क्वांटिटी नहीं क्वालिटी पर विश्वास करती है। उम्दा फिल्मो का निर्माण ही मेरा मकसद है। यह फ़िल्म निश्चय ही भोजपुरी दर्शको के बीच अपना एक अलग पहचान बनाएगी। फ़िल्म से नवोदित कलाकार उमेश कुशवाहा भोजपुरी जगत में पदार्पण कर रहे हैं उनके साथ अभिनेत्री नेहा श्री एक सशक्त भूमिका में दिखेंगी। पीआरओ सर्वेश कश्यप – कुंदन कुमार हैं।गीत संगीत जाहिद अख्तर,संतोष पूरी पटकथा व संवाद पारस बिहारी,अन्य कलाकारों में जीत पांडेय,बबली गोश्वामी,रूपा सिंह,नरेंद्र सिंह,धर्मेंद्र सिंह साहेब लालधारी,महेश गुप्ता है।—–कुन्दन कुमार/सर्वेश कश्यप...