Shanaya Makani – I will create a new history in the film industry

Shanaya Makani – I will create a new history in the film industry...

Shanaya Makani wants her production house, ‘Dream Catcher Productions’, to become the number one production house in the Indian film industry by making both Bollywood as well as regional movies. She made her debut with the the bhojpuri film “Suno Sasurji” which was co-produced by her father, Iqbal Makani under the banner “Dream Catcher Productions”. The movie released on the 2nd of March 2018 and was a superhit which was loved by both, the audiences and the critics, thus becoming a Holi blockbuster. Shanaya has attended the Utpal Shanghavi School and later completed a Fashion Management course from FAD International in Mumbai. Her degree in Fashion Management has helped her on the sets as well, as she designs most of the costumes used in her films. The costumes designed by Shanaya are attractive and perfectly match the mood and aesthetics of the scene. Shanaya is a bit of a control freak and can often be seen commanding the actors and the actresses during the shoot, so that they can align themselves in Shanaya’s vision of perfection.   Shanaya has also recently joined a few acting and dancing classes as she wishes to see herself on the big screen someday. In the meanwhile, however, Shanaya plans to use these talents to help the actors in her movies improve their acting chops and also by creating magical dance scenes in the movies produced by her. ————Uday Bhagat...
Satrangi Atrangi Muhurat Performed In Virar Mumbai

Satrangi Atrangi Muhurat Performed In Virar Mumbai...

शुरू हुई सतरंगी अतरंगी , बिहार 2016 की हुई घोषणा इंस्पिरियर फिल्म्स प्रोडक्शन द्वारा डुग्गु अर्थ स्टार फिल्म्स प्रोडक्शन के सहयोग से बन रही फिल्म सतरंगी अतरंगी का मुहूर्त विरार के ग्लोबल सिंटी में किया गया । इस मौके पर एक अन्य फ़िल्म बिहार 2016 के निर्माण की भी घोषणा की गई । निर्माता सनी प्रकाश व प्रतिष्ठा पूजा ने बताया कि सतरंगी अतरंगी एक कॉमडी फ़िल्म होगी जिसमें मनोरंजन का हर रंग दर्शको को देखने को मिलेगा । फ़िल्म के निर्देशक सद्दाम पारा है । इस फ़िल्म में कुछ नामचीन कलाकारों के साथ साथ स्नेइल कुमार , ऋतु कुमावत , राजू सोलंकी , सनी प्रकाश , रिजवान अली , चंदन सिंह , राज , राकेश,  अफजल , अजय शशि आदि मुख्य भूमिका में होंगे । फ़िल्म की लेखिका है प्रतिष्ठा पूजा जबकि सह निर्माता हैं दिनेश यादव । बिहार 2016 बिहार की शराबबंदी को ध्यान में रखकर बनाई जा रही फिल्म होगी । इस फ़िल्म की शूटिंग जून में मुम्बई और हैदराबाद में होगी । इस फ़िल्म में एजाज खान , स्नेहा उल्लाल , दयाशंकर पांडे आदि मुख्य भूमिका में होंगे । फ़िल्म की लेखिका प्रतिष्ठा पूजा हैं जबकि निर्देशक सनी प्रकाश हैं । ————Uday Bhagat...
Nachaniya Films Releasing On 18 May 2018 In Bihar And Jharkhand

Nachaniya Films Releasing On 18 May 2018 In Bihar And Jharkhand...

नचनिया की रिलीज डेट हुई घोषित निर्माण काल से ही वाहवाही लूट रही अश्लीलता से परे फ़िल्म नचनिया की रिलीज डेट घोषित कर दी गई है । निर्माता विशाल दुबे ने इसकी जानकारी देते हुए बताया कि आगामी 18 मई को नचनिया बिहार और झारखंड में रिलीज की जाएगी । फ़िल्म वितरक प्रवीण कुमार ने इस फ़िल्म के बिहार झारखंड के वितरण का अधिकार खरीदा है । विशाल दुबे ने बताया कि बिहार झारखंड के बाद फ़िल्म को अन्य टेरिटरी में रिलीज करने की योजना है । आपको बता दें कि नचनिया बिहार में लुप्त हो चुकी लोक कलाकारों की व्यथा को दर्शाती हुई फ़िल्म है । कैसे एक कला की जगह अश्लीलता ने ले ली है और उन लोक कलाकारों का क्या हाल है उसी पर फ़िल्म केंद्रित है । नचनिया में अविनाश दवेदी केंद्रीय भूमिका में है । फ़िल्म में उनके अपोजिट हैं श्रद्धा कपूर जबकि जाने माने कलाकार प्रकाश जैस इस फ़िल्म में संगीत के छात्र की भूमिका में हैं और उनके अपोजिट है आज की हॉट केक ऋचा दीक्षित । उल्लेखनीय है कि जयओम प्रोडक्शन के बैनर तले बनी नचनिया के निर्माता हैं विशाल दुबे जबकि निर्देशक हैं समीर रमेश सुर्वे । नचनिया की कई  विशेष स्क्रीनिंग फ़िल्म जगत के कलाकारों के लिए की जा चुकी है और सबने फ़िल्म की विषय वस्तु , कलाकारों खास कर अविनाश दवेदी के अभिनय की जम कर तारीफ की है । यहां तक कि सेंसर बोर्ड के सदस्यों ने भी फ़िल्म देखकर फ़िल्म की प्रशंसा करते हुए यू सर्टिफिकेट दिया है । नचनिया का ट्रेलर हाल ही में वर्ल्ड वाइड द्वारा रिलीज किया गया है । अब फ़िल्म के रिलीज डेट की घोषणा के बाद दर्शको की उत्सुकता फ़िल्म को लेकर बढ़ गई है । ————Uday Bhagat...
Peharedar & Parivartan Two Short Films Will Be Released Shortly On All Digital Platforms

Peharedar & Parivartan Two Short Films Will Be Released Shortly On All Digital Platforms...

दर्शको के समक्ष जल्द होगी पहरेदार व परिवर्तन डिजिटल क्रांति के इस दौर में कम समय में अधिक मनोरंजन और संदेशप्रद बातों को दर्शकों तक पहुँचाने में सबसे बड़ा माध्यम अब शॉर्ट फ़िल्म बन गया है । डिजिटल प्लेटफॉर्म व सोशल मीडिया के ज़रिये हर वर्ग के दर्शकों तक इसे पहुँचाया जा रहा है, साथ ही लोग इसमें काफी दिलचस्पी भी ले रहे हैं। इसी कड़ी में विज़न एंटरटेनमेंट पिक्चर्स ने “ही-मैन ऑफ इंडिया” का ख़िताब जीत चुके विनीत सिंह चंडेल को अभिनय के क्षेत्र में उतारते हुए दो शॉर्ट फ़िल्मों का निर्माण किया है । दोनों ही शॉर्ट फ़िल्म का लेखन और निर्देशन किया है जाने माने गीतकार प्रणव आर. वत्स ने और निर्माता हैं अरविंद सिंह । पहली फ़िल्म है “पहरेदार” जिसमे विनीत सिंह चंडेल के साथ साउथ की एक्ट्रेस पलक लालवानी , रंगराजन द्विवेदी , जावेद हैदर , केनिशा भारद्वाज , मास्टर दृश्य जैन , रेखा शर्मा , मुकेश के. सिंह और गणेश सिंह मुख्य भूमिका में हैं । प्रणव आर. वत्स ने बताया कि पहरेदार एक म्यूज़िकल ड्रामा है जो एक माँ-बेटे की कहानी को दर्शाता है । वहीं दूसरी फ़िल्म “परिवर्तन” बदलती पीढियों के बीच के अंतर की कहानी है। यह भी एक म्यूज़िकल फैमिली ड्रामा है । इस फिल्म में मुख्य भूमिका में हैं विनीत सिंह चंडेल,  सिमरन शर्मा , गिरीश थापर , गीता गोपाल गोवेकर , ज़िया शेख़ तथा पप्पू प्रधान। दोनो ही फ़िल्मों एडिटर हैं शिवा बायप्पा, संगीतकार अयान अली अब्बास, सुपरवइज़िंग प्रोड्यूसर संतोष आर. शर्मा, कार्यकारी निर्माता प्रशांत झा, क्रियेटिव हेड  कपिल पराशर, सिनेमेटोग्राफर अनिल ज़ेवियर व अंकित मिश्रा, गीतकार प्रणव आर. वत्स व आफरीन अनवर, सह निर्देशक अमित ठाकुर और मुख्य सहायक निर्देशक चंदन कश्यप हैं। ————Uday Bhagat...
Actor – Writer Pranav R. Vatsav Turns Director

Actor – Writer Pranav R. Vatsav Turns Director...

अभिनय लेखन के बाद अब निर्देशन के क्षेत्र में प्रणव आर वत्स अमूमन फ़िल्म जगत में ऐसे कम ही लोग होते हैं जो फिल्मो से संबंधित हर विधा को खुद में आत्मसात कर लेते हैं । एक ऐसे ही प्रतिभाशाली युवा है प्रणव आर वत्स जिन्होंने अभिनय से अपने कैरियर की शुरुआत की , फिर हिंदी और मराठी के कई फिल्मो में गीत लेखन के बाद अब निर्देशन के क्षेत्र में उतर गए हैं । बतौर निर्देशक उनकी पहली फीचर फिल्म जंगलम की शूटिंग जल्द ही शुरू होगी । मूलतः बिहार के भागलपुर निवासी प्रणव ने अपनी शिक्षा दीक्षा वही से पूरी की है और अभिनय की शुरुआत भी वही से की । स्थानीय स्तर पर कई संगठनों से सम्मान पा चुके प्रणव ने फिर मुम्बई की ओर रुख किया और यहां उन्होंने अभिनय के साथ साथ संगीत जगत में भी अपना काम शुरू कर दिया । अनुपम खेर के एक्टिंग स्कूल से प्रशिक्षित प्रणव वत्स ने कादर खान का थियेटर ग्रुप जॉइन कर लिया । दो साल तक कई क्षेत्रीय फिल्मो , टेलीविजन शो और थियेटर में अभिनय के बाद उन्होंने गीत लेखन का कार्य शुरू किया । लेखन प्रणव को विरासत में मिली थी क्योंकि उनके दादा जी स्वर्गीय जगदीश प्रसाद सिंह एक जाने माने कवि थे । कई धार्मिक अल्बम और कई छोटे बजट की हिंदी फिल्मों में उन्होंने गीत लिखा । प्रणव के कैरियर में टर्निंग पॉइंट तब आया जब उनकी प्रतिभा से प्रभावित होकर प्रसिद्ध कोरियोग्राफर गणेश आचार्य ने उन्हें कई फिल्मो में गीत लिखने का अवसर प्रदान किया । जिनमे हे ब्रो जैसी म्यूजिकल हिट फिल्म भी शामिल है । इसके बाद इश्क़ सरफिरा , तुतक तुतक तूतिया , एफ यू  जैसी चर्चित फिल्मे शामिल है । प्रणव के लिए साल 2018 काफी...
Sudhir Mishra’s Dasdev Releasing On 20 April 2018

Sudhir Mishra’s Dasdev Releasing On 20 April 2018...

सुधीर मिश्रा की दासदेव 20 अप्रैल से जबरन आप सबकुछ करवा सकते हैं, पर प्यार नहीं —– —– सुधीर मिश्रा सुधीर मिश्रा की दासदेव 20 अप्रैल से मुनीर नाज़ी की एक पंजाबी कविता चर्चित है, जिसकी पंक्तियों का आशय है — आप सबकुछ तय कर सकते हैं, अपने सामर्थ्य के बूते हर चीज हासिल कर सकते हैं, मगर किसी का प्यार नहीं। क्यों ??? क्योंकि इश्क़ पर जो़र नहीं। थोड़ा और स्पष्ट करें तो रंगदारी और दिलदारी साथ साथ नहीं चल सकती ! इसी 20 अप्रैल को प्रख्यात फिल्मकार सुधीर मिश्रा इसी बात का खुलासा करने थियेटर में लेकर आ रहे हैं “दासदेव”। फिल्म के शीर्षक से इसकी समानता अथवा तुलनात्मक चर्चा “देवदास” से होगी, यह अलग बात होगी। लेकिन, रंगदारी वाला गाना सिनेमाघर मेें रंग ज़रूर जमायेगा। आर्को मुखर्जी ने इसका संगीत तैैयार किया है और नवराज हंस के साथ गाया भी है। राहुल भट्ट और ऋचा चड्ढा पर येे गीत देव व पारो जैैसा फिल्माया गया है। इस गीत के वीडियो देखकर आपको लगे, यह नयेे मिजाज का देवदास ही है ।लेकिन, सुधीर मिश्रा इससे कुछ अलग बात करते हैं। कहते हैं, “दासदेेेव” की बात जुदा, अंंदाज अलग है। यह राजनीतिक परिवेेेश में पनपती फिल्म है। सत्ता से सबकुछ हासिल करने की सनक है। हमारा कथ्य शेक्सपीयर की सोच सेे प्रभावित होता दीखेगा। सच भी है,जिसकी आप परवाह करते हैं, जिसका ध्यान है, उसकी रक्षा, सुरक्षा आपकी जिम्मेदारी बनती है। फिरभी यह जिम्मेदारी जबरन किसी का प्यार पाने का कोई अमोघ अस्त्र नहीं हो सकती। दो शब्दों में यह कह सकते हैं कि रंगदारी से सब कुुुछ पा सकते हैं, लेकिन किसी के दिल पर इसका ज़ोर नहीं चलता। ऋचा और राहुल नये ज़माने केे पारो-देव के रूप में खूब फबते हैं और उस पर “रंगदारी” वाला गाना...